महिलाये खुद कैसे करे अपनी सुरक्षा -Women Safety Tips

महिलाये खुद कैसे करे अपनी सुरक्षा -Women Safety Tips 

Women safe in india
महिलाये कैसे करे अपनी सुरक्षा
Women Safety Tips

 महिलाये कैसे करे अपनी सुरक्षा  जिस प्रकार दिन प्रतिदिन हो रही घंटनाये हो रही  है  वाकई में हर कोई डरा हुआ है। जहा एक तरफ खुशियाँ है दूसरी तरफ ऐसी दर्दनाक घटनाये। जिस भारत में  देवी देवताओ की पूजा होती है। आज हमारी माता ,बहने ,सुरक्षित नहीं है। आज समाज में ये चिंता का विषय बन गया है। जहा हम बात करते है हम आजाद हो गए 1947 में  क्या वाकई में हम आजाद है। यह सोचनीय बात है। जब बेटी घर से बाहर निकलती है जॉब या स्कूल तब माँ बाप की चिंता उसके लौटने तक होती है. मन ही मन डर सताती है की वो ठीक होगी या नहीं। आज हम बात करेंगे की यह डर कैसे पैदा हुई और क्या कारण है और हम कैसे अपना बचाव करे।  महिलाये कैसे करे अपनी सुरक्षा

    क्या कारण है 

 
no safe women
Women Safety Tips

भेदभाव  – भारत में महिलाओ की बुरी स्थिति का कारण है सामाजिक राय और रवैया -जी हा अगर बात कड़वी लगे तो माफ़ी लेकिन सच यही है। बचपन से ही महिलाओ को पुरुषो से कम दर्जा दिया जाता है। और यही मानसिकता का कारण है। हम सब ये भूल रहे है जबकि सब बराबर है। भाग्य से मिलने वाला बेटा और सौभाग्य से मिलने वाली बेटी ये सिर्फ मजाक रह गया है।और बचपन से ही लड़को को ज्यादा अहमियत दी जाती है चाहे वो घूमना ,खाने पिने ,फैशन ,पढ़ाई ही क्यों नहीं। ये सोच और ये नजरिया बदलना बहुत जरुरी है।

आज दिन प्रतिदिन महिलाओ में हो रखे अमानवीय घटनाये लगातार बढ़ती जा रही है। हर रोज न जाने कितने महिलाओ के साथ अत्याचार होते हे ,चाहे वो योन उत्पीड़न हो या जबरदस्ती ,
एक रिपोर्ट के अनुशार हर दिन 20-25 min में किसी न किसी महिलाओं के साथ अमानवीय घटनाये है। इसमें 40 % 18 साल से कम की महिलाओं के साथ होती है।
कौन है इसके लिए जिम्मेदार कोन है सरकार या हम सोचनीय बात है। एक समाज के जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हम सब की भी ये जिम्मेदारिया बनती है। एक सरकार की ही नहीं हमारी भी जिम्मेदारी बनती है। 

 क्या बदलने की जरुरत है 

Education 

एक ऐसी शिक्षा की बात कर रहा हु जहा बचपन से ही सिखाया जाये लड़का -लड़की एक सामान है। जो अधिकार लड़को को है वही लड़कियों के होने चाहिए। 

Improve Law & Order

आज हमारे कानून  व्यवस्था को सुधारना बहुत जरुरी है। जहा हम इंसाफ की बात है वहा इंसाफ सही समय पर नहीं  मिल पाता ,ना जाने कितने केस ऐसे ही पड़े है और कही  Pending में पड़े है। जिस पर ये घटित हो रही हो वो इंसाफ की गुहार लगाते लगाते थक जाता है। इसे सही करना बहुत जरुरी है। 
आज ऐसे तरीके बताये जायेंगे जिसमे महिलाये खुद को सुरक्षित करे जब वो अकेली हो जब साथ कोई न हो .


महिलाओ की सुरक्षा के लिए कुछ सेफ्टी टिप्स 

 1 -जब भी आप घर से बाहर निकले  चाहे  घूमने ,ऑफिस ,ट्रेवेल आदि  तो घर पर अपने भाई ,माँ  को इन्फॉर्म जरूर करे ताकि आसानी से वो पता कर सकते है।

 2 -अगर आप रात की जॉब हो या कही जारहे हो तो अपने पर्श में नुकीली चीज रख ले जब भी आपको गलत फील हो तो आप बच सकते है।

 3.अगर जब रात को अकेली ट्रैवल या कही पर रुकते हो तो सुंशान जगह में ना रुके कही आपके आसपास शॉपिंग मॉल ,और आसपास कही A.T.M मशीन के वहा रुक जाये। ये सुरखित जगह है। यहाँ आप कैमरा की नजर में रहोगे।

 4 . अगर आप कही बहार जा रहे हो और अकेले गाड़ी में हो तो ये दिखावा न करे की में पहली बार यहाँ आई हो.कॉंफिडेंट में  रहे।

 5 -अगर घर में ऐसी घटनाये तो बचाव के लिए किचन को और जाये आपसे बेहतर किचन को कोई नहीं जानता कहा पर मिर्ची रखी है और भी अपना बचाव कर सकते है। 

 

कुछ विशेष –


नारी शक्ति है नारी  महान है।
अपने आप को किसी से कम मत समझो। भूल गए एक नारी ने अपने दम पर अकेले हजारो अंग्रेजो को मौत के घाट उतार दिया। महान क्रन्तिकारी रानी लक्ष्मी बाई
एक और -भूल गए उस नारी को जिसने बिना पैर के एवरेस्ट फतेह किया- अरुणिमा सिन्हा
ना जाने कितने ऐसे उधाहरण है। 

 

उत्तराखंड में निकली बम्पर भर्ती 2020

पोस्ट अच्छी लगी होगी अगर आपको काम की लगी तो अपने बहने ,माताए ,और सभी लोगो को शेयर करे कुछ बहनो की मेसेज पड़कर बहुत दुःख लगा  -उन्होंने खुद को असुरखित कहा।

रंगीलो पहाड़ फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करे –rangilopahad
रंगीलो पहाड़ व्हाट्सप्प ग्रुप जुड़ने के लिए क्लिक करे – rangilopahad
रंगीलो पहाड़ इंस्टाग्राम में जुड़ने के लिए क्लिक करे- rangilopahad

 
 
 
 
 
 
 

2 thoughts on “महिलाये खुद कैसे करे अपनी सुरक्षा -Women Safety Tips”

Leave a Reply

%d bloggers like this: