रानीखेत शिव मंदिर -शिव मंदिर का निर्माण पांडवो द्वारा किया गया

रानीखेत में स्थित शिव का प्राचीन मंदिर जो आज भी बहुत प्रचलित हिया
शिव मंदिर रानीखेत ,अल्मोड़ा

रानीखेत में स्थित शिव का प्राचीन मंदिर जो आज भी बहुत प्रचलित है

रानीखेत शिव मंदिर लगभग रानीखेत  से करीब 20km दूर स्थित भगवान शिव को समर्पित यह मंदिर काफ़ी लोकप्रिय है. इसकी बनावट और आस पास की सुंदरता मन मोह लेती है, और यहां के लोगों के लिए यह अपार श्रद्धा का प्रतीक भी है. इसके चारों और लगाए गये पेड़ पौधे और नाना प्रकार के फूल इसकी शोभा को और ज़्यादा बढ़ाते हैं.यह महादेव शिव और देवी पार्वती की पावन स्थली भी मानी जाती है.स्थानीय मान्यताओं के अनुसार यह माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण पांडवों द्वारा किया गया. यहां कई छोटे बड़े मंदिर समूह स्थित हैं,जिनमें अलग अलग तरह की कलाकृतियाँ भी बनाई गई हैं जो कि वास्तुकला का एक सानदार उदाहरण है और यह इतना आकर्षक है कि कोई भी इसे निहारे बिना नहीं रह सकता. यहां भगवान गणेश,शिव-पार्वती और भी कई देवी-देवताओं की मूर्ति स्थापित की गई है.

सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा : अल्मोड़ा प्रमुख पर्यटन स्थल उत्तराखंड

इसके अलावा यहां अन्य कलाकृतियाँ जैसे-रथ और चीज़ें भी बनाई गई हैं. इसके अलावा यह यहां की वनस्पति के कारण भी काफ़ी लोकप्रिय है. इसके आस-पास का वातावरण काफ़ी शांत है और यहां आकर एक अलग ही आनंद का अहसास भी होता है. दूर दूर से लोग यहां घूमने और यहां की कलाकृतियों को देखने के लिए आते हैं. दर्शन हेतु आए भक्तौं को यहां सूजी का प्रसाद बाँटा जाता है और हर वर्ष एक विशाल भंडारे का आयोजन भी इस मंदिर में किया जाता है.

माँ कौमारी देवी : कौमारी देवी गुफा मंदिर की कहानी अल्मोड़ा ,उत्तराखंड

रंगीलो पहाड़ फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करे –rangilopahad
रंगीलो पहाड़ व्हाट्सप्प ग्रुप जुड़ने के लिए क्लिक करे – rangilopahad
रंगीलो पहाड़ इंस्टाग्राम में जुड़ने के लिए क्लिक करे- rangilopahad

Leave a Reply