हिंदी भाषा दिवस की क्यों मनाया जाता है |Hindi Diwas की शुभकामनाए

किसी देश की भाषा सिर्फ बोलने का माध्यम नहीं होती जबकि वह इस देश की अखंडता को एकता की पहचान होती है. भाषा ही देश की एक मुख्य पहचान होती है. भारत की राष्ट्रभाषा भाषा हिंदी विश्व के सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है.
आज 14 सितम्बर हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है.

hindi diwas की  शुभकामनाए

hindi diwas par lekh -हिंदी भारत की राजभाषा है. 14 सितम्बर 1949 को इसे राजभाषा का दर्जा दिया गया और था.इसीलिए हर वर्ष 14 सितम्बर को हिंदी दिवस मनाया जाता है. हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए काका कालेलकर,मैथिली शरणगुप्त,हज़ारी प्रसाद द्विवेदी,सेठ गोविंद दास,आदि साहित्यकारों को साथ में लेकर व्यौहार राजेंद्र सिंह आदि ने अथक प्रयास किए जिस कारण हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्जा मिल पाया और अन्तत : 14 सितम्बर 1949 को व्यौहार राजेंद्र सिंह के जन्मदिवस के अवसर पर हिंदी को राष्ट्रभाषा का दर्जा दिया गया.
भारत के संविधान के भाग 17 के अनुच्छेद 343(1) में इस प्रकार वर्णित है
संघ की राष्ट्रभाषा हिंदी और लिपी देवनागिरी होगी. संघ के राजकीय प्रयोजनों के लिए प्रयोग होने वाले अंकों का अंतर्राष्ट्रीय रूप होगा.
भारत में करीब 33 करोड़ लोगों द्वारा हिंदी बोली जाती है.

हिंदी भाषा दिवस पर दिए जाने वाले पुरस्कार

हिंदी दिवस पर राजभाषा कीर्ति पुरस्कार और राजभाषा गौरव पुरस्कार दिया जाता है. राजभाषा गौरव पुरस्कार उन लोगों को दिया जाता है जो हिंदी भाषा के विषय में अथक प्रयास करते हैं और हिंदी भाषा को आगे बढ़ाने का प्रयास करते हैं. जबकि राजभाषा कीर्ति पुरस्कार हिंदी भाषा के लिए उत्कृष्ट कार्य करने वाले और सरकारी कामकाजों में हिंदी भाषा का प्रयोग करने वाले समितियों और संस्थाओं को दिया जाता है.इन पुरस्कारों की शुरूवात 1986 से हुई थी पहले राजभाषा कीर्ति पुरस्कार का नाम इंदिरा गांधी राजभाषा पुरस्कार तथा राजभाषा गौरव पुरस्कार का नाम राजीव गाँधी ज्ञान विज्ञान मौलिक लेखन पुरस्कार था लेकिन 25 मार्च 2015 को गृह मंत्रालय ने इन पुरस्कारों का नाम बदल दिया था. तब से यह राजभाषा गौरव पुरस्कार तथा राजभाषा कीर्ति पुरस्कार के नाम से ही दिए जाते हैं.

हिंदी मेरी जान है हिंदी मेरी पहचान है हिंदी मेरी शान है जय हिन्द जय भारत आप  सभी साथियों को हिंदी दिवस की शुभकामनाए |

आप यह भी पढ़ सकते है

रंगीलो पहाड़ व्हाट्सप्प ग्रुप जुड़ने के लिए क्लिक करे – rangilopahad

Leave a Reply

%d bloggers like this: