भारतीय संविधान की कुछ खास बाते :Constitution of India

भारतीय संविधान का इतिहास 

Father of Indian Constitution Dr. Bhimrao Ambedkar
Father of Indian Constitution Dr. Bhimrao Ambedkar

1757 के प्लासी का युद्ध और  1764 के बक्सर के युद्ध को अंग्रेजो के द्वारा जीत जाने के बाद बंगाल पर ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी का शासन  को आगे बढ़ाने के लिए अंग्रेजों ने समय-समय पर कई एक्ट पारित किए जो भारतीय संविधान के विकास की सीढ़ियां बनी। 
संविधान शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा कॉन्स्टिट्यूरो  जिसका अर्थ है प्रबंध का आयोजन करना, व्यवस्था करना होता है। 

                   भारतीय संविधान की रचना 

भारतीय संविधान की रचना में कैबिनेट मिशन के आधार पर भारतीय संविधान का गठन निर्माण करने वाली संविधान सभा का गठन जुलाई 1946 में किया गया इस सभा के सदस्यों की कुल संख्या 389 निश्चित की गई  जिसमें 292  बिट्रिश प्रान्ती ,  4 चीफ कमिश्नर , 93 देशी रियासतों के प्रतिनिधि थे .

मिशन आयोग के अनुसार 1946 में संविधान सभा का चुनाव हुआ जिसमें कुल 389 सदस्यों से प्रांतों से निर्धारित 296 सदस्यों के लिए चुनाव हुए जिसमें विभिन्न प्रांतों विधानसभा द्वारा चुनाव हुआ इसमें कांग्रेस को 208 और ,मुस्लिम को 73 वा और 15  अन्य  उम्मीदवार निर्वाचित हुए। 

                                                        भारतीय संविधान की मुख्य बातें

 1..संविधान सभा की पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 को दिल्ली में हुई। 
2.सभा के सबसे बुजुर्ग डॉ सचिदानंद सिन्हा  सदस्य सभा का अस्थाई अध्यक्ष चुना गया. मुस्लिम लीग ने इस 3.बैठक का बहिष्कार किया और पाकिस्तान के लिए अलग सविधान की  मांग की। 
4.संविधान सभा में ब्रिटिश प्रांतों को 296 प्रतिनिधियों का विभाजन सांप्रदायिक आधार पर किया गया 213 सामान्य ,79 मुसलमान और 4 शिख थे। 
5-संविधान सभा केदस्यों में अनुसूचित जनजातियों के सदस्य की संख्या 33   थी. संविधान सभा में महिलाओं की संख्या 15 थी 
6- 11 दिसंबर 1946 को गठित संविधान का स्थाई अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद को नियुक्त किया गया। 
 7 -13 दिसंबर 1946 को पंडित जवाहरलाल नेहरु के द्वारा प्रस्ताव प्रस्तुत कर संविधान का निर्माण का कार्य प्रारंभ कियाप्रारंभ किया। 

Dr. Rajendra Prasad and Pandit Jawaharlal Nehru.
खुबसूरत चित्र जवाहर लाल नेहरू और राजेद्र प्रसाद
Dr. Rajendra Prasad and Pandit Jawaharlal Nehru.

8 -1947 में गठित प्रारूप समिति का अध्यक्ष डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को बनाया गया 
9 – संविधान निर्माण की प्रक्रिया में 2 वर्ष 11 माह 18 दिन का समय लगा 
10 – भारत ने संविधान को 26 नवंबर 1949 को पारित किया गया इसमें कुल 22 भाग और 395 अनुच्छेद और 8 अनुसूचियां थी। 
11 –  संपूर्ण संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया.
   वर्तमान में 465 अनुच्छेद और 12 अनुसूचियां और 22 भाग है 

                         संविधान सभा द्वारा किए गए कुछ अन्य कार्य

1– 22 जुलाई 1947 को राष्ट्रीय ध्वज को अपनाया गया
 2- 24 जुलाई 24 जनवरी 1950 को राष्ट्रीय गान , राष्ट्रीय गीत को अपनाया गया। 

                                   भारतीय संविधान के विदेशी स्रोत 

अमेरिका-मौलिक अधिकार और संविधान की सर्वोच्चता और न्यायपालिका की सर्वोच्चता
बिट्रेन – संसाधन प्रणाली शासन प्रणाली, एकल नागरिकता,विधि निर्माण कार्य आयरलैंड- नीति निर्देशक तत्व
ऑस्ट्रेलिया– प्रस्तावना की भाषा, शक्तियों का विभाजन 
जर्मनी– आपातकाल के दौरान राष्ट्रपति को शक्तियां
 कनाडा- संघात्मक  विशेषताएं, राज्यपाल की नियुक्ति संबंध
 दक्षिण अफ्रीका– संविधान संशोधन की प्रक्रिया 
रूस –मौलिक कर्तव्यों का प्रावधान 
जापान– विधि द्वारा स्थापित प्रक्रिया

उत्तराखंड की प्रमुख पारंपरिक आभूषण और पहनावा और संस्कृति

रंगीलो पहाड़ फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करे –rangilopahad
रंगीलो पहाड़ व्हाट्सप्प ग्रुप जुड़ने के लिए क्लिक करे – rangilopahad
रंगीलो पहाड़ इंस्टाग्राम में जुड़ने के लिए क्लिक करे- rangilopahad

 

Leave a Reply