Best Places In Ranikhet -रानीखेत के मुख्य पर्यटन स्थल स्वर्ग से कम नहीं

places in ranikhet

उत्तराखंड का पर्यटन स्थल रानीखेत-वैसे तो हमारा उत्तराखंड यहां की स्वास्थ्यवर्धक जलवायु और हरी भरी पहाड़ियों वादियों के कारण खासा प्रसिद्ध है.इसी कारण तो शहरों से लोग पहाड़ों में घूमने और शुद्ध हवा का आनंद लेने के लिए आते हैं.उत्तराखंड का ऐसा ही एक सुंदर और खूबसूरत शहर है रानीखेत जो सिर्फ अपनी खूबसूरती के …

Read moreBest Places In Ranikhet -रानीखेत के मुख्य पर्यटन स्थल स्वर्ग से कम नहीं

बागेश्वर बागनाथ मंदिर का इतिहास कई हजारो साल पुराना यहाँ भगवान शिव एक बाघ के रूप में अवतरित हुए थे

बागनाथ मंदिर का इतिहास

बागेश्वर का बागनाथ मंदिर बागेश्वर ज़िले का सबसे प्रसिद्ध शिव मंदिर है. जो कि सरयू और गोमती नदी के संगम पर स्थित है.बागेश्वर का यह शिव मंदिर उत्तराखंड के प्रसिद्ध शिव मंदिरों में से एक माना जाता है.History of Bagnath Temple Bageshwar व बागनाथ मंदिर का इतिहास,Story of bageshwar bagnath temple बागेश्वर बागनाथ मंदिर की …

Read moreबागेश्वर बागनाथ मंदिर का इतिहास कई हजारो साल पुराना यहाँ भगवान शिव एक बाघ के रूप में अवतरित हुए थे

गंगोलीहाट का हाट कालिका मंदिर का अनोखा इतिहास कई हजारो साल पुराना आज भी मान्यताए प्रचलित है

हाट कालिका मंदिर की कहानी

गंगोलीहाट स्थित हाट कालिका मंदिर कुमाऊँ कालिका मंदिरों में सबसे प्रसिद्ध मंदिर है.इसे महाकाली का शक्तिपीठ भी कहा जाता है. Uttarakhand के Pithoragarh जिले के गंगोलीहाट नामक जगह पर स्थित हाट कालिका का यह मंदिर चारों तरफ से देवदार वृक्षों से घिरा हुआ एक दर्शनीय स्थल है.इस मंदिर अपने में कई रहस्य समेटे हुए है …

Read moreगंगोलीहाट का हाट कालिका मंदिर का अनोखा इतिहास कई हजारो साल पुराना आज भी मान्यताए प्रचलित है

उत्तराखंड में ऐसा भी गॉव है जहा महाभारत के सबसे बड़े खलनायक कर्ण और दुर्योधन का मंदिर है .

duryodhan mandir uttarkashi

  हमारा सनातन धर्म हिन्दू धर्म इसे यों ही महान नहीं कहा जाता और धर्मों के सापेक्ष इस धर्म में मानवता की महिमा और सदाचार का व्यवहार सर्वाधिक दिखने को मिलता है.इसके अलावा यहां पूजे जाने वाले देवताओं की संख्या भी सर्वाधिक माना जाता है.हिन्दू धर्म में पूजे जाने वाले देवताओं की करीब 33 करोड़ …

Read moreउत्तराखंड में ऐसा भी गॉव है जहा महाभारत के सबसे बड़े खलनायक कर्ण और दुर्योधन का मंदिर है .

Nanda Devi Temple Ka Itihas |नंदा देवी मेले की शुरुआत कैसे हुई|

Nanda Devi Temple History in hindi

Nanda Devi Temple (नंदा देवी मंदिर )का इतिहास   Nanda Devi Temple History in Hindi  नंदा देवी पर्वत चोटी (Nanda Devi Mountain) भारत की सबसे ऊँची पर्वत चोटियों में गिनी जाती है. लेकिन उत्तराखंड में नंदा को एक देवी के रूप में पूजा जाता है. उत्तराखंड में  माँ नंदा देवी के कई मंदिर हैं लेकिन इनमें …

Read moreNanda Devi Temple Ka Itihas |नंदा देवी मेले की शुरुआत कैसे हुई|

पुंगेश्वर महादेव मंदिर का इतिहास इस मंदिर में छुपे है कई रहस्यमयी राज

पुंगेश्वर महादेव मंदिर का इतिहास

भारत के देवभूमि नाम से प्रसिद्ध उत्तराखंड के पिथौरागढ़ ,बेरीनाग (वेणीनाग) नागों की भूमि रूप मे प्रसिद्ध, जहां से पंचाचूली पर्वतों के समूह का मंत्रमुग्ध अनुभव होता है. पुंगेश्वर महादेव मंदिर का इतिहास के बारे जानेंगे वहीं से कुछ दूरी पर बाफिला ग्राम सभा-बेरीनाग(Berinag) शहर से 8 किलोमीटर दूरी पर में नागों के प्रमुख भगवान …

Read moreपुंगेश्वर महादेव मंदिर का इतिहास इस मंदिर में छुपे है कई रहस्यमयी राज

माँ बाराही धाम देवीधुरा में बग्वाल मेला 2020 नियमो अनुसार मनाया गया

देवीधुरा बग्वाल मेला

देवीधुरा बग्वाल मेला 2020:पत्थर मेला रक्षाबंधन के दिन माँ बाराही धाम देवीधुरा में बग्वाल मेला लगता है. जो कि इस दिन यहां होने वाले पत्थर युद्ध के कारण खासा प्रसिद्ध है. इस बार कोरोना महामारी के कारण यहां मेला तो नहीं लग सका लेकिन कुछ नियमों के साथ बग्वाल ज़रूर खेली गयी. बग्वाल 11 बजकर …

Read moreमाँ बाराही धाम देवीधुरा में बग्वाल मेला 2020 नियमो अनुसार मनाया गया

History of Jageshwar Temple Almora-उत्तराखंड का प्रसिद्ध मंदिर

jageshwar temple

Jageshwar dham temple का रहस्यमयी इतिहास और मान्यताये उत्तराखंड का सबसे लोकप्रिय मंदिर Jageshwar Mandir Almora के बारे में भले कौन नहीं जानता है .जी हा में बात करने वाला हु.जागेश्वर मंदिर का इतिहास और क्या प्राचीन मान्यताये है .और कितना पुराना मंदिर है और मंदिर कहाँ स्थित है .Jageshwar Temple के बारे में बहुत …

Read moreHistory of Jageshwar Temple Almora-उत्तराखंड का प्रसिद्ध मंदिर

माँ भद्रकाली मंदिर बागेश्वर का रहस्मयी इतिहास हजारो साल पुराना

माँ भद्रकाली मंदिर

 माँ भद्रकाली मंदिर का रहस्मयी इतिहास हजारो साल पुराना उत्तराखंड को देव भूमि यानी देवों की भूमि कहा जाता है क्योंकि यहां ऐसे कई मंदिर स्थित हैं. जो अपने में कई प्रकार के रहस्य समेटे हुए हैं.माँ भद्रकाली मंदिर कहा स्थित है .इन्हीं मंदिरों में से एक है बागेश्वर से करीब 40km व कांडा से …

Read moreमाँ भद्रकाली मंदिर बागेश्वर का रहस्मयी इतिहास हजारो साल पुराना

Badrinath Temple History और कैसे पड़ा नाम बद्रीनाथ

badrinath temple history

 badrinath temple histroy in hindi आज बताने जा रहे है char dham में से एक ऐसा धाम बाबा बद्रीनाथ मंदिर की कहानी और मान्यताये बहुमी संति तीर्थानी दिव्य भूमि रसातले| बद्री सदृश्य तीर्थं न भूतो न भविष्यती।। अर्थात स्वर्ग,धरती,नरक,तीनों ही जगह अनेकों तीर्थ स्थान हैं लेकिन बद्रीनाथ जैसा तीर्थ ना ही कभी था और ना …

Read moreBadrinath Temple History और कैसे पड़ा नाम बद्रीनाथ