बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है और कैसे और महत्व जानिए -Basant Panchami 2021

Basant panchami 2021-बसंत पंचमी 2021 -बसंत पंचमी के त्योहार का समय माघ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी है.लेकिन इस बार अधिक मास होने के कारण यह एक महीने आगे यानी फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को यह त्योहार मनाया जा रहा है और यह फरवरी की सोलह तारीख को है तो आज जानते हैं बसंत पंचमी के बारे में बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है ? और बसंत पंचमी का क्या महत्व है ?

बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है ?

Basant panchami kyo manai jati hai-बसंत पंचमी जैसा कि इसके नाम से ही झलकता है बसंत और इसी दिन से ही वर्ष की सबसे पसंदीदा ऋतु बसंत ऋतु का आगमन हो जाता है.बसंत ऋतु सर्दियों के बाद और गर्मी के पहले की ऋतु होती है.इसी कारण इस ऋतु में वातावरण ना ही अधिक ठंडा होता है और ना ही अधिक गर्म एक मनचाहा सा वातावरण इस ऋतु में दिखाई देता है.इसलिए सभी तो यह ऋतु सबसे अच्छी लगती है.इस समय जौं में बालियां आ जाती है.मेहल आदि पेड़ो में कल्लियां और फूल आ जाते हैं आम के पेड़ों में बोर लग जाते हैं खेत खलिहान फसल से लहलहाने लगते हैं एकदम खुशनुमा सा वातावरण बना रहता है.
साथ ही ऐसा भी कहा जाता है. “कि इस दिन विद्या और ज्ञान की देवी मां सरस्वती का भी जन्म हुआ था.इसी कारण मां सरस्वती की पूजा बसंत पंचमी के दिन की जाती है

बसंत पंचमी का महत्व

बसंत पंचमी कैसे मनाते हैं-बसंत पंचमी के दिन विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा की जाती है.प्रार्थना की जाती है कि मां सरस्वती हम सब पर सद्बुद्धि बनाए रखे.इसके अलावा इस दिन जौं की बालियां घर की देहली पर लगाई जाती हैं मंदिर में चढ़ाई जाती हैं और स्नान के समय भी पूरे शरीर पर जौं की नई बालियां फेरी जाती हैं ऐसा माना जाता है कि शरीर पर को भी रोग हों वो सही हो जाएं और शरीर के सारे पाप नष्ट हो जाएं और शरीर स्वस्थ रहे.इस दिन पीले वस्त्र पहने जाते हैं बच्चों के हाथ या गले में पीला रुमाल बांधा जाता है.

बसंत पंचमी के बारे में क्या सिखा 

आज हमने बसंत पंचमी क्यों मनाई जाती है और बसंत पंचमी का महत्व और Basant Panchami 2021 कब है उम्मीद करता हु आपको जानकारी पसंद आई होगी धन्यवाद

कुम्भ मेला का इतिहास 

Leave a Reply